You are here
Home > bhaskar.com >

अस्थमा और माइग्रेन के पीड़ित ज्यादा सावधानी बरतें, जानें सर्दियों में स्वस्थ रहने के उपाय


सर्दियों का मौसम आ चुका है। सुबह और रात के वक्त अब हम ठंड महसूस करने लगे हैं। यह मौसम खाने-पीने, छुट्टियों और आनंद के लिए जाना जाता है, लेकिन इस मौसम में बीमार पड़ने का खतरा भी बना रहता है। एम्स भोपाल में डॉक्टर विनीत द्विवेदी के मुताबिक, इस मौसम में खुद को गर्म रखकर बीमार पड़ने से बचा जा सकता है।

सर्दियों के मौसम में अस्थमा और जोड़ों को दर्द के पीड़ितों की मुश्किलें और भी बढ़ जाती हैं। सीनियर सिटीजन और बच्चों पर विशेष ध्यान देना होता है। इस मौसम में काढ़ा, तुलसी और हल्दी युक्त दूध बहुत कारगर उपाय हैं, जो आपको बीमार पड़ने से बचा सकते हैं।

सर्दी से बचने के उपाय

  • काली मिर्च और लौंग लें

  • तुलसी का इस्तेमाल करें

  • अदरक लें

  • जायफल का इस्तेमाल करें

  • हल्दी युक्त गर्म दूध लें

  • शहद लें

सर्दी में हो सकती हैं ये 8 समस्याएं, जानें इनसे बचने के उपाय

​​​​

1- कब्ज

  • सर्दियों के मौसम में कब्ज की समस्या बढ़ जाती है। तापमान कम होने की वजह से हमारा पाचन तंत्र थोड़ा धीरे काम करता है। इससे बचने के लिए इस मौसम में पानी खूब पीना चाहिए। खाना खाने के बाद जीरा पाउडर खाएं, यह आपके शरीर को गर्म रखेगा, जिससे आपकी पाचन क्रिया ठीक रहेगी।
  • सर्दियों के मौसम में ज्यादा ठंडा खाने से बचना चाहिए और खाने के बाद वॉक जरूर करनी चाहिए। शरीर को गर्म बनाए रखने के लिए काली मिर्च और लौंग भी लेते रहें।

2- माइग्रेन

  • कई लोगों को ठंडी हवा और ठंड के कारण सिरदर्द होता है, जो आसानी से कम नहीं होता। ऐसा होने पर दूध में जायफल घिसकर माथे पर इसका लेप करें। इससे काफी जल्दी सिरदर्द से आराम मिलेगा।
  • सर्दियों में जुकाम बहुत आम है, ऐसे में माइग्रेन के पीड़ितों की दिक्कतें इस मौसम में और भी बढ़ जाती हैं। इससे बचने के लिए काढ़ा और डॉक्टर की सलाह पर एंटी एलर्जिक दवाएं लेते रहें।

यह भी पढ़ें- सर्दी में छोटी सी लापरवाही भारी पड़ सकती है, 4 तरह के बिस्तर और 3 इलेक्ट्रिक उपकरण हमें ठंड से बचा सकते हैं…

3- ड्राई स्किन

  • सर्दी में त्वचा के साथ-साथ होंठों का फटना आम बात है। फटे होंठों पर कोकम का तेल लगाने से काफी फायदा होता है। इससे होंठों की त्वचा नर्म और मुलायम हो जाती है।
  • सर्द मौसम में एड़िया फटने की समस्या भी बहुत होती है, जिसे बिवाइयां फटना कहते हैं। ऐसा होने पर एड़ियों पर प्याज का पेस्ट या फिर मोम लगाने से आराम मिलेगा।

4- खांसी और बलगम

  • सर्दियों में आमतौर पर छाती में बलगम जमा हो जाता है और ऐसा होने पर काफी परेशानी होती है। इसके लिए अंजीर का सेवन करें। इससे बलगम निकलेगा और खांसी से राहत मिलेगी। शरीर को गर्म रखकर भी ऐसी समस्याओं से बचा जा सकता है। इसके लिए आप हल्दी युक्त गर्म दूध भी ले सकते हैं।

5- बुखार

  • सर्दी अधि‍क लग जाने पर बुखार आना भी आम है। इससे बचने के लिए दिन में तीन बार अजवाइन के चूर्ण लेना फायदेमंद होता है। तुलसी युक्त काढ़ा भी इसके रोकथाम में बहुत कारगर है।

6- वायरल

  • वायरल यानी खांसी, जुकाम, बुखार एक साथ होने पर पुदीने के पत्तों की चाय बनाकर पीने से आराम मिलता है। इससे बचने के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने आप को सुरक्षित रखें।

सर्दियों में वायरल से ऐसे बच सकते हैं

  • गर्म कपड़े पहनें

  • खाने में गर्म चीजों का इस्तेमाल करें

  • बाइक चलाने वाले ग्लव्स और जूते पहनें

  • मास्क लगाएं

  • गर्म पानी पिएं

यह भी पढ़ें-

1. सर्दियों में आ सकती है वायरस की दूसरी लहर, जानिए बचने लिए क्या करें…

2. फ्लू की वैक्सीन लें, बच्चों का ध्यान रखें; इन 5 तरीकों से कोरोना रोक सकते हैं…

7- अस्थमा के पीड़ित ज्यादा सावधानियां बरतें

  • कफ अधि‍क जमा हो जाने से अस्थमा पीड़ितों की मुश्किलें और भी बढ़ जाती हैं। अजवायन के साथ छोटी पीपर और पोस्तदाना का काढ़ा बनाकर पीने से तुरंत आराम मिलता है। अदरक और सूखे अदरक भी अस्थमा के पीड़ितों के लिए बहुत कारगर है। खाने और चाय में अदरक का इस्तेमाल करें। सूखे अदरक को शहद के साथ लें।

8- जोड़ों का दर्द

  • सर्दियों के मौसम में अक्सर जोड़ों के दर्द की शिकायत रहती है। सरसों के तेल में 3-4 लहसुन की कली डालकर पका लें और ठंडा होने पर इससे मालिश करें। इस तेल की मालिश से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है और गर्माहट बनी रहती है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Winter asthma and migraine sufferers need to be more alert, know ways to stay healthy in winter

Top
%%footer%%