सीरम इंस्टीट्यूट का दावा, दिसंबर तक देश के लिए कोरोना टीके की 30 करोड़ तक खुराक बना लेंगे

0


सीरम इंस्टीट्यूट (एसएसआई) ने कहा कि वह दिसंबर तक कोरोना वैक्सीन के 30 करोड़ डोज बना लेगा। संस्थान के कार्यकारी निदेशक डाॅ. सुरेश जाधव ने कहा कि डीसीजीआई से लाइसेंस मिलते ही टीके लॉन्च कर दिए जाएंगे। सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्रेजेनेका के साथ मिलकर वैक्सीन बना रहा है। डॉ. जाधव ने कहा कि सीरम 5 अलग-अलग उत्पादों पर काम कर रहा है। जो डोज बनेंगे, उनमें से आधे भारत व आधे मिलिंडा-बिल गेट्स की संस्था गैवी के जरिए गरीब देशों की मदद के लिए भेजे जाएंगे।

रूसी वैक्सीन के ट्रायल की सिफारिश: सीडीएससीओ की एक्सपर्ट कमेटी ने भारत में रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-5 के दूसरे चरण के ट्रायल की सिफारिश की है। दो दिन में मंजूरी मिल सकती है।

टीका कब मिलेगा?

डाॅ जाधव ने कहा- हम दिसंबर में नियामक डीसीजीआई को तीसरे चरण के ट्रायल का डेटा उपलब्ध करा देंगे। नियामक संतुष्ट होते हैं तो हमें मार्केटिंग प्राधिकार के साथ एक महीने में टीके के आपात इस्तेमाल का लाइसेंस मिल सकता है। फिर हम प्रीक्वालिफिकेशन के लिए डब्ल्यूएचओ जाएंगे। उसके बाद टीके बाजार में आ जाएंगे।

पहले किसे मिलेगा?

सीरम ने कहा- टीका लगाने की प्राथमिकता सूची में सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मी होने चाहिए। दूसरे नंबर पर 60 साल से ऊपर के बुजुर्ग हों। 18 साल से कम उम्र वालों पर बहुत कम परीक्षण चल रहे हैं, इसलिए हो सकता है कि उनका नंबर बाद में आए। 18 से 50 साल के उम्र के नागरिकों को आिखर में टीका लगाया जा सकता है।

अभी यह स्थिति: चार कंपनियों के ट्रायल चल रहे हैं, तीसरे चरण में अकेला सीरम

  • सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड के टीके के तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा है। दिसंबर में ट्रायल के नतीजे आ सकते हैं।
  • भारत बॉयोटेक का दूसरे चरण का ट्रायल जारी है। इसी महीने दूसरे फेज का ट्रायल पूरा होगा। फिर तीसरे चरण का ट्रायल होगा।
  • जायडस कैडिला दूसरे चरण के ट्रायल की तैयारी में है।
  • बॉयोलॉजिकल-ई को पहले फेज के क्लीनिकल ट्रायल की मंजूरी मिल चुकी है। इसी तरह डॉ. रेड्‌डी लैबोरेटरीज रूसी वैक्सीन के दूसरे चरण के ट्रायल की तैयारी में है। मंजूरी मिलनी अभी बाकी है।

हरियाणा-डेढ़ लाख के करीब पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा

हरियाणा में एक दिन में 1177 नए मरीज मिले हैं। 6 मरीजों की मौत हो गई है। करनाल, पंचकूला, पानीपत, भिवानी, फतेहाबाद और सिरसा में एक-एक नई मौत हुई है। अब कुल मौतों का आंकड़ा 1693 हो चुका है। जबकि संक्रमितों की संख्या 1,49,435 हो चुकी है। 24 घंटे में 1318 मरीज ठीक हुए हैं। अब तक 137,176 मरीज स्वस्थ हो गए हैं। 10,566 मरीजों का इलाज चल रहा है। 195 की हालत सीरियस है। प्रदेश में 14 जिले ऐसे हैं, जहां 90%से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य का औसत रिकवरी रेट 91.79 फीसदी है।

पंजाब में मौतें 4 हजार पार, 8वां राज्य जहां सबसे ज्यादा माैतें, 452 नए केस

कोरोना महामारी से पंजाब में मरने वालों की संख्या 4 हजार पार हो गई है। शनिवार को 22 नई मौतें हुई और 453 लोग संक्रमित हुए। हालांकि दिन में 760 मरीज ठीक होकर भी लौटे। कुल संक्रमितों का आंकड़ा अब 1,27367 हो गया है। इनमें 1,16925 मरीज ठीक हो चुके हैं। वहीं, मृतकों की कुल संख्या अब 4007 पहुंच गई है। देश में 4 हजार से ज्यादा मौतों के मामले में पंजाब 8वें स्थान पर है। सूबे में 6152 एक्टिव मरीज हैं। इनमें 144 ऑक्सीजन सपोर्ट और 22 वेंटिलेटर पर हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फाइल फोटो

Leave a Reply