You are here
Home > bhaskar.com >

35 की उम्र में महिलाओं को छोड़ देनी चाहिए ये आदतें

पहले आप दिनभर में कभी-कभी ही अपना चेहरा साफ करती थीं और रात को बिना मेकअप हटाए भी सो जाती थीं लेकिन 35 साल की होने के बाद आपको अपना खास खयाल रखना है।

उम्र के हर पड़ाव पर आपको अपने शरीर को अलग तरह से देखना होता है और अलग तरह से उसकी देखभाल करनी होती है। जब आप जवां होती हैं तो आपकी त्वचा को बहुत ज्यादा देखभाल की जरूरत भले ही नहीं होती और आप भी इसे लेकर बेपरवाह सी ही रहती हैं लेकिन 35 साल की उम्र के बाद आपको अपनी त्वचा और शरीर का खास खयाल रखना होता है। उम्र के इस खास पड़ाव पर आपके लिए अपनी इन कुछ आदतों को छोड़ देना ही बेहतर होता है, ताकि आपकी त्वचा भी आपको जी भरके शुक्रिया कह सके।

रात को आंखें साफ करके सोएं
आपकी आंखों पर बढ़ती उम्र की झलक सबसे पहले आती है तो ऐसे में आपको इनका खास खयाल रखना होता है। इस उम्र में आप खासतौर पर आंखों के लिए बनाया गया मेकअप रिमूवर इस्तेमाल करें और सोने से पहले आंखों से मेकअप हटा दें। आंखों को आराम देने के लिए आई क्रीम का इस्तेमाल करें।

मुंहासों को नजर अंदाज न करें
20-30 साल की उम्र के बीच जब आपके मुंहासे होते थे तो आप कोई भी एक्ने प्रोडक्ट लगा लेती थीं लेकिन 35 साल की उम्र के बाद आपको मुंहासों को सीरियसली लेना होता है। चूंकि इस उम्र में यह त्वचा में गहराई से शुरू होते हैं तो पहले वाले प्रोडक्ट्स से काम नहीं बनता। आपको इस उम्र में ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना चाहिए जिनमें सल्फर आदि शामिल हों। उन प्रोडक्ट्स को अपनाना चाहिए, जो स्किन को ज्यादा मॉइश्चराइज कर सकें। आप विटामिन सी जैल की बजाय विटामिन सी सीरम का उपयोग करें।

वजन का ध्यान रखें
हो सकता है कि आप 20-30 साल की उम्र के दौरान अपने वजन पर ज्यादा ध्यान न देती हों, लेकिन 35 की उम्र में आपको अपने बॉडी फैट पर ध्यान जरूर देना चाहिए। इस उम्र के बाद आपके शरीर में एस्ट्रोजन लेवल कम होने लगता है, जिससे आपके शरीर में फैट का रीडिस्ट्रिब्यूशन होता है और आपके वजन में भी बदलाव आता है। साथ ही आपकी स्किन भी ढीली पडऩे लगती है। इस उम्र में अपनी सेहत का खास खयाल रखें और अपने वजन को ज्यादा बढऩे या घटने न दें। एक-दो किलो ऊपर-नीचे चलता है लेकिन इससे ज्यादा आपके लिए अच्छा नहीं है। वजन न बढ़े, इसके लिए हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करें। सुबह-शाम टहलने जाएं।

संस्क्रीन को विकल्प की तरह न लें

जब आप 20-30 साल की उम्र में होती हैं तो संस्क्रीन का इस्तेमाल रोज न करके, कभी-कभी ही करती हैं। हालांकि, 35 की उम्र में आपको सन डैमेज, झुर्रियों, सन स्पॉट्स से बचने के लिए इसका रोज इस्तेमाल करना चाहिए। यह आपके रुटीन का हिस्सा बन जानी चाहिए। आपके शरीर का जो भी हिस्सा धूप का सामना करे, उस पर संस्क्रीन जरूर लगाएं। चाहे वह आपका चेहरा हो, गर्दन हो, हाथ हों या कोई और हिस्सा, सभी पर अच्छी तरह से संस्क्रीन लगाएं। त्वचा सुरक्षित रहेगी। ध्यान देने वाली बात यह भी है कि संस्क्रीन उस वक्त भी लगाना जरूरी है, जब तेज धूप न हो।

Top
%%footer%%